विद्यापती गीत
Lyrics of Maithili Song- Ke Patiya laya Jayeta re
May 2, 2015
0

के पतिया लए जाएत रे


के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।
हिय नहि सहय असह दुःख रे, भेल साओन मास ।
के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।।
एकसरि भवन पिया बिनु रे, मोहि रहलो न जाए ।
एकसरि भवन पिया बिनु रे, मोहि रहलो न जाए ।
सखि अनकर दुःख दारुन रे, जग के पतिआए ।
सखि अनकर दुःख दारुन रे, जग के पतिआए ।
के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।।
मोर मन हरि हरि लए गेल रे, अपनो मन गेल ।
गोकुल तेजि मधुपुर बसु रे, कत अपजस लेल ।
गोकुल तेजि मधुपुर बसु रे, कत अपजस लेल ।
के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।।
विधापति कवि गाओल रे, धनि धरु मन आस ।
आओत तोर मनभावन रे, एहि साओन मास ।
आओत तोर मनभावन रे, एहि साओन मास ।
के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।
के पतिया लए जाएत रे, मोरा पिअतम पास ।।

किछ सुन्दर मैथिली भिडियो गीत