बेटी लगन

          बेटी लगन आठमे बर्ष सीता आनी न जानी हे, कुमारी सीता नौ मे उठे उदफान हे, कुमारी सीता दशमे बरखक सीता मरबा चठी बैसल हे, कुमारी सीता बाबा करत कन्या दान हे, कुमारी सीता भेल बिबाह परल शिर सिन्दुर हे, कुमारी सीता मोती जका झहरैन बाबाके लोर हे, कुमारी सीता

बारामास

               बारामास चैत बैशाखके महिना आजु छैक धुपके दिनमा ना, छतबा लगबिहेरे देओरबा कि आजु पिया अबिते हे ता ना । जेठ असारके महिना आजु छैक गर्मी के दिनमा ना बेनीया डोलाबो हे देओरबा कि आजु पिया अबिते हे ता ना । साबन भादौँ के महिना आजु छैक वर्षा […]

मैथिली गीत

                 मैथिली छैठके गीत  ( तर्जः विध्यापती )   कार्तीक महिना चितचोर सजनिगे । शैन दिन परैछै घाट भोर सजनिगे ।।   ठकुआ पकेबै भुसबा बनेबै    । २ ।। नरीयल आ नेबो राखिक डाला सजेबै डाला लक जायब घाटक ओर सजनिगे ।। कार्तीक महिना …….   कल जोडी छठी माईके […]

मैथिली गीत

मैथिल  ( बिबाहक गीत ) मुठी एक उँच छथीन सीयाके सजनवाँ हे ।। २ सिया के सजनवा सखि हे दशरथ के ललनवाँ हे ।। २ मुठी एक उँच छथीन ………. श्यामल गोर किशोर मनोहर आयल जनक भवनमाँ हे माथपर हुनका चमकै छैन लालेलाल चन्दनमाँ हे मुठी एक उँच छथीन …….. दशरथ गोर कौशिल्या गोरी राम […]

महेशवाणी

                         महेशवाणी अपनी बरात शीव साजीलियोरे, हिमाचल नगरीया हाराके काडा, करैत के मौरी, सर्पके माला बनालियोरे हिमाचल नगरीया अपनी बरात शीव साजीलियोरे, हिमाचल नगरीया जब शीव साजात अपनी बरतीया, भुत यो प्रेत संग साथ लियोरे हिमाचल नगरीया अपनी बरात शीव साजीलियोरे, हिमाचल नगरीया परीछन […]

मैथिली गीत
मैथिल गीत
October 1, 2013

बहीना सिया के दुल्हा श्यामल चितचोर गे देवर लखन छथीन गोर गे ना ।।   जखन राम अबध सौँ चलला बनमे तारका सुबाहु के मारला – २ उनका चरण के धुइल सौँ  बैनगेल पत्थल सौँ नारगे ।। देवर लखन छथीन गोर गे ना ।।   राजा जनकजी स्वंयम्बर कएला त्खन राम जनकपुर अयला धनुष के […]

सामाके गीत

कौने बागँ रोपल चम्पा चमेली हे सोहागिन सामा किनका कोखी जन्मल जेठ भाँय हे सोहागिन सामा अपन बाबा रोपल चम्पा चमेली हे सोहागिन सामा अम्मा कोखी जन्मल जेठ भाँय हे सोहागिन सामा कोन भैया हित बसु कोने भैया प्रेमी हे सोहागिन सामा कोने भैया डोलिया लागल जाय हे सोहागिन सामा । ।       […]

बटगवनी

  दधि मागे जशोधा के लाल, कि गोकुल हम ना जइबे पनिया भरन गेली, ओही जमुनमा, ओही कन्हैया ठार, गोकुल हम ना जइबे दधिया बेचन गेली ओही बृन्दावन, ओही कन्हैया ठार, गोकुल हम ना जइबे मारे बसुलीया फोरे गँगरीया यहि मोहन के चाल, गोकुल हम ना जइबे कौडी खेलन गेली यही बृन्दावन, ओही कन्हैया ठार, […]

मैथिली गीत

    भैया भौजी संगमे एकटा कार ऐलैय, भौजी के देखैला गामक लोग ऐलैय   भैया लक लक भौजि छथीन मोट लगै छथीन भौजी बाछी सौं छोट बुझाइय जेना आँगनमे छोट मोट हाती चलैय भौजी के देखैला ……………….. देखैला सब लोग गप करैय भौजी घरमे मेकअप करैय देखमें हमरा कोयल स कनिक गोर लगैय भौजी के […]

मैथिली गजल
मैथिली गजल
September 8, 2013

हे राम पुछैत छी अहाँ सँ कहू किए दोष हमरा पर लादल गेल जमीन मे समयलौं हम, अपने की जीवीतेमे हमरा गाडल गेल अहील्या सुखी छलौं पाथर बनी क’ ने बेदना ने कोनो संबेदना छल उद्धार केलौं किए? की अपमान सही कहाँ ओहि दुष्ट के मारल भेल हे श्याम सुन्दर हे मुरलीधर कहू प्रीत मे […]